4 नहीं अब 5 विदेशी खिलाड़ी हो सकेंगे आईपीएल की प्लेइंग-11 में, जानिए क्या है पूरा नियम | IPL 2021 News in Hindi

 आईपीएल को इंडियन प्रिमियर लीग के रूप में जाना जाता है और इसकी सबसे बड़ी वजह इस लीग में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन है। हालांकि बहुत से विदेशी खिलाड़ी भी आईपीएल में आते हैं लेकिन अंत वो हमारे भारतीय खिलाड़ियों से कहीं पीछे ही रह जाते हैं। भारतीय खिलाड़ियों को लेकर आईपीएल में एक खास नियम भी है जिसकी बात हम आगे करने वाले हैं। 
(Image Source – IPL/BCCI)

आपको भी मालूम होगा कि आईपीएल के मैच की प्लेइंग-11 में कम से कम 7 भारतीय खिलाड़ी को जगह देनी ही पड़ती है। इसके उलट अगर देखें तो इस नियम की वजह से सिर्फ 4 विदेशी खिलाड़ी ही किसी भी टीम की प्लेइंग-11 में जगह बना पाते हैं लेकिन अब आईपीएल 2021 के लिए बीसीसीआई की तरफ एक नया नियम लाया गया है। 

इस नियम के अनुसार अब कोई भी आईपीएल टीम अपनी प्लेइंग-11 में अधिकतम 5 विदेशी खिलाड़ी को शामिल कर सकता है। हालांकि इस नए नियम को लेकर कुछ शर्ते भी हैं। 

क्या हैं 5 खिलाड़ियों को शामिल करने की शर्त 

इस नियम का कोई भी टीम तभी फायदा उठा सकती है जब उस टीम का कम से कम 5 भारतीय खिलाड़ी चोट या किसी अन्य वजह से टीम के अनुपलब्ध हो जाता है। तो अगर कोई टीम मनमाने तरीके से इसका इस्तेमाल करना चाहती है तो वो नहीं कर सकती। 
आपको बता दें कि सभी आईपीएल की टीम में कम से कम 25 खिलाड़ी होते हैं और अगर इन 25 में से 5 भारतीय खिलाड़ी किसी वजह से टीम से नहीं जुड़ पाते हैं तब इस नियम को लागू किया जा सकता है। 
इससे पहले साल 2011 में भी इस नियम को लागू किया गया था। उस समय सबसे पहले मुंबई की टीम ने इस नियम का इस्तेमाल किया था और पूरे टूर्नामेंट के दौरान मुंबई इंडियंस 5 विदेशी खिलाड़ियों के साथ मैच खेली थी। 
हालांकि आपको क्या लगता है, कौन सी टीम इस नियम का सबसे ज्यादा फायदा उठाने वाली है? कमेन्ट में जरूर बताएं और आईपीएल से जुड़ी ऐसी ही और भी शानदार जानकारी सबसे पहले पाने के लिए यहाँ क्लिक कर हमें फॉलो करना बिल्कुल भी न भूलें। 

Leave a Reply