गुजरात बनाम चेन्नई : पाँच साल बाद चला इस खिलाड़ी का बल्ला, उड़ गयी चेन्नई की टीम और गेंदबाज

कप्तान राशिद खान (40) की तूफानी बल्लेबाजी और आईपीएल में पांच साल बाद डेविड मिलर की किलर 94 रनों की नाबद पारी से गुजरात टाइटंस (Gujarat Titans) ने चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को 3 विकेट से हराकर साबित कर दिया कि वह क्यों इस सीजन आईपीएल (IPL 2022) की नंबर वन टीम है।

david miller

बिना अपने नियमित कप्तान हार्दिक पंडया के राशिद की कप्तानी में गुजरात ने चेन्नई के जबड़े से जीत छीनी और 6वें मैच में चौथी जीत के साथ 10 अंक लेकर गुजरात की टीम अंक तालिका में टॉप पर काबिज है। वहीं चेन्नई की टीम को 4 हार के बाद 5वें मैच में जैसे-तैसे जीत मिली थी लेकिन एक बार फिर रविन्द्र जडेजा की कप्तानी वाली चेन्नई को 6 मैचों में 5वीं हार का सामना करना पड़ा है। जिसके चलते मुंबई के बाद अब उस पर भी आईपीएल के जारी सीजन के प्लेऑफ से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है।

गुजरात की खराब हुई थी शुरुआत 

गौरतलब है कि 170 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए गुजरात की शुरुआत खराब रही और 16 रन पर उसके तीन विकेट गिर चुके थे। जिसमें शुभमन गिल (0), विजय शंकर (0) और अभिनव मनोहर (12) पवेलियन जा चुके थे। ऐसे में गुजरात की टीम इन तीन झटके से उबार ही पाई थी कि आईपीएल के इस सीजन में पहला मैच खेलने वाले ऋद्धिमान साहा (11) भी चलते बने। जिसके चलते एक समय गुजरात के 8 ओवर के भीतर ही 48 रन पर चार विकेट गिर चुके थे।

18वें ओवर में राशिद खान ने पलटा मैच 

इस तरह चार विकेट जल्दी-जल्दी खोने के बाद एक छोर पर डेविड मिलर अपना नैचुरल गेम खेल रहे थे और दूसरे छोर पर राहुल तेवतिया के आउट होने के बाद 87 रन के स्कोर पर पहली बार गुजरात की कप्तानी करने वाले राशिद खान क्रीज पर आए। ऐसे में राशिद ने आते ही निर्भीक होकर बल्ला घुमाया और मैदान में मौजूद सभी फैंस फिफ्टी जड़कर खेलने वाले मिलर के मैजिक को भूल बैठे।

राशिद ने पारी के 18वें ओवर में चेन्नई के क्रिस जॉर्डन की जमकर धुनाई की और इस ओवर में तीन छक्के और एक चौके से 25 रन जड़ डाले। जिससे गुजरात ने मैच में वापसी की और चेन्नई की हार का टर्निंग पॉइंट बना।

12 गेंद में 23 रन की दरकार और मिलर का किलर अंदाज 

जब दो ओवर का खेल बाकी था तब राशिद 17 गेंदों में 31 रन जबकि मिलर आईपीएल इतिहास में साल 2016 के पांच साल बाद फिफ्टी प्लस स्कोर 44 गेंद में 81 रन बनाकर खेल रहे थे। ऐसे में गेंदबाजी करने आए ब्रावो ने पहले राशिद खान को 21 गेंद पर 2 चौके और तीन छक्के जड़कर 40 रन पर चलता किया।

इसके बाद अल्जारी जोसेफ को भी गोल्डन डक पर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। इस तरह 19वें ओवर में गुजरात की टीम 10 रन बना सकी जबकि उसके दो विकेट गिरे।

6 गेंदों में 13 रन और गुजरात की जीत 

अब अंतिम ओवर में गुजरात को जीत के लिए 13 रन चाहिए थे। तभी मिलर ने एक बार फिर जॉर्डन और मैच के अंतिम ओवर में स्ट्राइक मिलने के बाद तीसरी गेंद पर छक्का मारा। इस तरह अब बची हुई तीन गेंद में गुजरात को 7 रन की दरकार थी तभी चौथी गेंद पर वह कैच दे बैठे लेकिन वह गेंद नो बॉल निकली और गुजरात को फ्री हिट मिली। यहीं से चेन्नई के जीत की उम्मीदें टूट गई और मिलर ने फिर चौथी गेंद पर चौका जड़ा, इसके बाद 5वीं गेंद पर दो रन लेकर गुजरात को जीत दिला डाली।

इस तरह गुजरात ने 19.5 ओवर में 7 विकेट पर 170 रन बनाकर चेन्नई के खिलाफ हारे हुए मैच में तीन विकेट से जीत दर्ज की। चेन्नई के लिए मिलर किलर साबित हुए और अंत तक वह 51 गेंदों में 8 चौके 6 छक्के से 94 रन की पारी खेलकर नाबाद रहे। चेन्नई के लिए जॉर्डन ने 4 ओवर में 58 रन लुटाए और एक भी विकेट नहीं लिया। जबकि सबसे अधिक तीन विकेट ड्वेन ब्रावो ने लिए।

हार्दिक की जगह राशिद ने की कप्तानी 

मैच में इससे पहले हार्दिक पंड्या की ग्रोइन की चोट के कारण टाइटंस की अगुआई कर रहे राशिद खान ने टॉस जीतकर सुपरकिंग्स को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया जिसके बाद टीम ने तीसरे ओवर में सात रन के स्कोर पर ही रोबिन उथप्पा (03) का विकेट गंवा दिया जिन्हें शमी ने एलबीडबल्यू किया।

गायकवाड़ ने तीसरे ओवर में शमी पर पारी का पहला चौका जड़ा और फिर तेज गेंदबाज यश दयाल पर छक्का और चौका मारा। तभी अल्जोजारी सेफ ने मोईन अली (01) को बोल्ड करके सुपरकिंग्स को दूसरा झटका दिया। मोईन इस तेज गेंदबाज की गेंद को विकेटों पर खेल गए। सुपरकिंग्स ने पावर प्ले में दो विकेट पर 39 रन बनाए।

गायकवाड़ की फॉर्म आई वापस 

गायकवाड़ ने लॉकी फर्ग्युसन का स्वागत चौके के साथ किया और फिर जोसेफ पर छक्का मारा। रायुडू ने भी जोसेफ के इसी ओवर में छक्का मारा। गायकवाड़ ने दयाल की गेंद पर एक रन के साथ 37 गेंद में सीजन का पहला और करियर का आठवां आईपीएल अर्धशतक पूरा किया। गायकवाड़ ने दयाल पर अपना चौथा-छक्का मारा जबकि रायुडू ने इस तेज गेंदबाज पर चौके और एक रन के साथ 12वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया।

अर्धशतक से चूके रायुडू

रायुडू हालांकि 35 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब फर्ग्युसन की गेंद पर राशिद मिड ऑफ पर उनका मुश्किल कैच लपकने में नाकाम रहे। गायकवाड़ ने इसी ओवर में लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा। रायुडू ने राशिद पर छक्का जड़ा लेकिन जोसेफ की गेंद पर विजय शंकर को कैच दे बैठे जिससे गायकवाड़ के साथ उनकी 92 रन की साझेदारी का अंत हुआ और इस दौरान रायुडू ने 31 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और दो छक्के मारे।

73 रन की गायकवाड़ ने खेली पारी 

शमी ने इसके बाद शिवम दुबे (19 रन) को एलबीडबल्यू किया लेकिन डीआरएस लेने पर फैसला बल्लेबाज के पक्ष में गया क्योंकि गेंद पैड पर टकराने से पहले बल्ले से टकराई थी। गायकवाड़ हालांकि अगले ओवर में दयाल की फुलटॉस पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में बाउंड्री पर अभिनव मनोहर को कैच दे बैठे और 8 गेंद में पांच छक्कों और इतने ही चौकों की मदद से 73 रन की पारी खेली।

इसके बाद फर्ग्युसन के अंतिम ओवर की पहली गेंद पर पर मनोहर ने बाउंड्री पर दुबे का कैच टपकाया और गेंद बाउंड्री के लिए चली गई। जडेजा ने भी ओवर में लगातार दो छक्के जड़े। जिससे चेन्नई ने गुजरात टाइटंस के खिलाफ पांच विकेट पर 169 रन बनाए।

IPL News In Hindi

Leave a Reply