IPL 2023 New Rule : नए नियमों से आईपीएल मे लगेगा रोमांच का तड़का

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 16वें सत्र की शुरुवात मे अब सिर्फ 2 दिन बचे है। 31 मार्च को चार बार के चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स और पिछले सत्र की विजेता गुजरात टाइटंस के बीच पहला मैच खेला जाएगा। बीसीसीआई ने आईपीएल मे इस बार कुछ नए नियम IPL New Rules 2023 in hindi जोड़े है। जिससे यह टूर्नामेंट इस बार अधिक रोमांच होगा।

आज हम इन सभी नियमों के बारे मे आपको विस्तार से बताने वाले है।

नए नियमों से आईपीएल मे लगेगा रोमांच का तड़का

नियम – 1 (इंपैक्ट प्लेयर)

आईपीएल मे इस बार इंपैक्ट प्लेयर नियम जोड़ा गया है, जो मैच को बेहद रोमांचक बनाएगा। टॉस के समय कप्तान को अंतिम एकादश के साथ पाँच स्थानापन्न खिलाड़ियो के नाम भी देने होंगे। पारी का 14वां ओपर शुरू होने से पहले कप्तान इन पाँच खिलाड़ियो मे से किसी एक को इंपैक्ट प्लेयर के तौर पर मैदान पर उतार सकता है।

इंपैक्ट प्लेयर अंतिम एकादश मे शामिल किसी भी खिलाड़ी की जगह बल्लेबाजी या गेंदबाजी कर सकेगा। ओवर खत्म होने, विकेट गिरने या किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर इंपैक्ट प्लेयर को उतारा जा सकेगा। हालांकि अगर वर्षा या किसी कारण के मैच 10 या उससे कम ओवर का किया जाता है, तो यह नियम लागू नहीं होगा।

नियम – 2 (टॉस के बाद कप्तान बादल सकेंगे टीम)

अब टॉस के बाद भी कप्तान अंतिम एकादश मे बदलाव कर सकेंगे। पहले टॉस के समय टीम शीट मैच रेफरी को दी जाती थी, जिसके बाद अंतिम एकादश मे बदलाव नहीं हो सकता था। लेकिन अब यही कप्तान को टॉस के बाद स्थिति के मुताबिक टीम मे बदलाव कर सकता है। इसके लिए कप्तान को अंतिम एकादश कि सूची मे पाँच स्थानापन्न खिलाड़ियो के नाम देने होंगे।

दक्षिण अफ्रीका टी-20 लीग के बाद आईपीएल दूसरी क्रिकेट लीग है। जिसने यह नियम अपनाया है। दक्षिण अफ्रीका टी-20 लीग मे टॉस के समय 13 खिलाड़ियो कि सूची मैच रेफरी को सौपी जाती है।

नियम – 3 (वाइड और नो बाल के लिए ले सकेंगे डीआरएस)

पिछले सत्रो मे ऐसे कई मुक़ाबले हुए है जिसमे नो बाल या वाइड बाल के चलते कई टीमों को जीता हुआ मैच गवाना पड़ा है। अंपायरों से हुई चूक को लेकर विवाद भी हो चुका है। डबल्यूपीएल की तरह आईपीएल मे भी अब वाइड और नो बाल के लिए ले सकेंगे डीआरएस

नियम – 4 (विकेटकीपर या क्षेत्ररक्षक की गलती पड़ेगी भारी)

किसी भी मुक़ाबले के दौरान अगर किसी भी टीम का विकेटकीपर या क्षेत्ररक्षक (फील्डर) बल्लेबाज के गेंद खेलने के पहले अपनी पोजीशन (खड़े होने कि स्थिति) मे बदलाव करता है तो अंपायर गेंद को डेड घोषित करेगा और बल्लेबाजी टीम के खाते मे पाँच पेनाल्टी रन जोड़े जाएंगे।

नियम – 5 (धीमी गति से ओवर भी सजा)

इस बार धीमी गति से ओवर कराने से जुड़ा नियम भी लाया गया है। अगर किसी भी मैच के दौरान कोई टीम निर्धारित समय से ओवर नहीं फेकती है तो हर ओवर के दौरान उस टीम को 30 गज के डायरे के बाहर केवल चार क्षेत्ररक्षक (फील्डर) रखने कि ही इजाजत मिलेगी।

Leave a Comment

Latest Post
IPL Special

मुंबई vs चेन्नई, हेड टू हेड रिकॉर्ड

X